Death

Death-Message-Hindistatus

                  ~ मौत ~

ज़िन्दा थे तो किसी ने पास बिठाया नहीं,
अब खुद मेरे चारों ओर बैठे जा रहें हैं।
पहले कभी किसी ने मेरा हाल न पूछा,
अब सभी आँसू बहाए जा रहें हैं।
एक रुमाल भी भेंट नहीं किया जब हम ज़िन्दा थे,
अब शालें और कपड़े ओढ़ाये जा रहे हैं।
कभी किसी ने एक वक्त का खाना तक नहीं खिलाया,
अब देसी घी मेरे मुंह में डाले जा रहें हैं।
जिंदगी के एक कदम भी साथ न चल सका कोई,
अब फूलों से सजाकर कंधे पर उठाए जा रहे हैं।
आज पता चला कि ‘मौत जिंदगी से कितनी बेहतर है’।
~अज्ञात


Post Comment

nineteen − 18 =

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)